स्वामी शिवानन्द के सुविचार

विश्वास प्रार्थना करने के लिए प्रेरित करता है। प्रार्थना व्यक्ति के हृदय को शुद्ध करती है। शुद्ध हृदय में भगवान का प्रकाश प्रकाशित होता है। जब प्रकाश नश्वर को अमर बना देता है

Swami Sivananda