स्वामी शिवानन्द के सुविचार

अपनी पिछली गलतियों और असफलताओं पर बिलकुल भी उलझे क्योंकि यह केवल आपके मन को दुःख, खेद और अवसाद से भर देगी। बस भविष्य में उन्हें दोहराएं नहीं।

Swami Sivananda