अब्दुल कलामजी के सुविचार

मैं इस बात को स्वीकार करने के लिए तैयार था कि मैं कुछ चीजें नहीं बदल सकता।

APJ Abdul Kalam